सप्तम कलत्र विवाह भाव स्वामी का बारह भावों में प्रभाव (कलत्र भाव)




FOR HOROSCOPE CONSULTATION WATTSAPP +917566384193

सप्तम भाव  का बारह भावों में प्रभाव (कलत्र  भाव)
विवाह, वैवाहिक जीवन और साझेदारी
प्रथम भाव में
आप अपने किसी बचपन के साथी से विवाह कर सकते हैं। आपका दिमाग बहुत संतुलित होता है। अपने बिजनेस पार्टनर के साथ आपके संबंध हो सकते हैं। आपको रिश्‍तों की कद्र करना जानते हैं। आपके जीवनसाथी का प्रभाव आपकी जीवनशैली को बदल सकता है। काम के कारण आपको कई विदेश यात्राएं करनी पड़ सकती हैं। मोलभाव करने में आप बहुत अच्‍छे होते हैं। रिलेशनशिप में आप शारीरिक सुख को ज्‍यादा महत्‍व देते हैं।
द्वितीय भाव में
शादी के बाद आप पहले से ज्‍यादा अमीर बन जाते हैं। शादी के बाद आपका भाग्‍य पूरी तरह से बदल जाता है। आपको कोई गंभीर रोग हो सकता है। आपके संबंध संतुलित और लंबे समय तक चलते हैं। अपने रिलेशनशिप को आगे बढ़ाने के लिए आप हर तरह का समझौता करने को तैयार रहते हैं। आप अपने पार्टनर के लिए बहुत पोजेसिव रहते हैं। आपको रिलेशनशिप में शारीरिक संबंध ज्‍यादा आकर्षित करते हैं। आप अपने रिश्‍ते को खत्‍म नहीं कर पाते हैं। आपको कहीं दूर जाकर रहना पड़ सकता है। आपको आंखों, दांतों, चेहरे और नाक आदि से संबंधित रोग हो सकते हैं।
तृतीय भाव में
अपने जीवनसाथी के साथ आपके संबंध बहुत अच्‍छे होते हैं। सही निर्णय पर पहुंचने तक आप बात करते रहते हैं। आपका पार्टनर प्रिंट, मीडिया या संचार के क्षेत्र से जुड़ा होता है। आपका पार्टनर बहुत साहसी और बातूनी होता है। आपकी संतान में पुत्र से ज्‍यादा पुत्री होती हैं। आपको कई लोगों से सलाह मिलती है जिनका आप कभी-कभी इस्‍तेमाल भी करते हैं। आप दूसरों की बातों और विचारों को महत्‍व देते हैं।

चतुर्थ भाव में
आपका विवाह देरी से होता है। आपके वैवाहिक जीवन में थोड़ी मुश्किलें भी आ सकती हैं। अपने माता-पिता को देखकर ही आप भी अपनी शादी में वैसे ही व्‍यवहार करने लगते हैं। अपने बचपन के कुछ शौक आप अपने पार्टनर के साथ पूरे कर सकते हैं। आपका जीवनसाथी थोड़ा डॉमिनेंट स्‍वभाव का हो सकता है। हो सकता है कि वो आत्‍मनिर्भर हो और ज्‍यादा दखलअंदाजी उसे पसंद ना हो। शादी के बाद आपको अपने घर से दूर जाना पड़ सकता है। आपके पास वाहन और जमीन-जायदाद होती है
पंचम भाव में
काफी कम उम्र में ही आपकी शादी हो जाती है। आपका वैवाहिक जीवन बेहतर रहता है। प्रेम विवाह की भी संभावना है। संतान प्राप्‍ति में कोई परेशानी आ सकती है। आपका जीवनसाथी किसी अच्‍छे परिवार से होता है। आपकी संतान भी आपको सुख देती है। आप अपने पार्टनर के साथ खूब मौत-मस्‍ती करते हैं। दोनों ही रचनात्‍मक होते हैं। आपको अपने जीवनसाथी से तारीफ सुनना अच्‍छा लगता है।
छठे भाव में
आपकी दो शादियां हो सकती हैं। किसी अन्‍य धर्म के व्‍यक्‍ति से विवाह हो सकता है। आपको कोई यौन रोग हो सकता है। आपका जीवनसाथी षड्यंत्र रचने वाला हो सकता है। आपका वैवाहिक जीवन ज्‍यादा अच्‍छा नहीं होता है। तलाक तक भी नौबत आ सकती है। परिवार में ही किसी के साथ संबंध हो सकते हैं। आपकी शादी किसी बीमारी व्‍यक्‍ति से हो सकती है जो आपकी इच्‍छाएं पूरी करने में असमर्थ हो।
सप्‍तम भाव में
आपके लिए विवाह के कई प्रस्‍ताव आते हैं। आपके कई संबंध हो सकते हैं। आपका जीवनसाथी किसी अच्‍छे परिवार से होता है। आप अपने जीवनसाथी का बहुत ख्‍याल रखते हैं। आपको अच्‍छी शिक्षा प्राप्‍त करते हैं। अपने स्‍वभाव से आप कई लोगों को प्रभावित करने में सफल हो पाते हैं। विदेश यात्रा के भी योग हैं।
आठवें भाव में
अपने परिवार में ही किसी के साथ आपके संबंध हो सकते हैं। आपका जीवनसाथी बहुत संपन्‍न होता है। वो जादू-टोने में भी लिप्‍त रहते हैं। ये उनकी आय का स्रोत हो सकता है। जमीन-जायदाद से भी पैसा मिलता है। विवाह से पूर्व किसी अच्‍छे ज्‍योतिषाचार्य को अपनी जन्‍मकुंडली जरूर दिखाएं।
नवम भाव में
आप किसी अन्‍य धर्म या संस्‍कृति से ताल्‍लुक रखने वाले व्‍यक्‍ति से विवाह कर सकते हैं। इससे आपको भी आश्‍चर्य होगा। आपके जीवनसाथी की रुचि अध्‍यात्‍म में ज्‍यादा होती है। उन्‍हें लंबी यात्राएं करना बहुत पसंद होगा। आप अपने वैवाहिक संबंध में भावनात्‍मक संतुष्टि की चाह ज्‍यादा रहेगी। आप जिस तरह से अपने पार्टनर का ख्‍याल रखते हैं और उनका साथ देते हैं, वो दूसरों के लिए प्रेरणादायक है। शादी के बाद आपका भाग्‍योदय होता है।
दशम भाव में
विदेश में आपको सफलता मिलती है। आपके जीवन में यात्राएं ज्‍यादा होती हैं। आपको एक अच्‍छा जीवनसाथी मिलता है। आपके पार्टनर की आय बहुत अच्‍छी होती है लेकिन आप उन पर हुकुम नहीं चला सकते हैं। आप विवाह के पश्‍चात् धनी बनते हैं। शादी के बाद आप राजनीति में कदम रख सकते हैं। ऑफिस जैसी जगह पर आपको अपना पार्टनर मिल सकता है। बिजनेस और करियर में पार्टनर की वजह से सफलता मिल सकती है।
ग्‍यारहवे भाव में
विपरीत सेक्‍स के कई लोगों से आपके संबंध हो सकते हैं। आपके एक से ज्‍यादा विवाह हो सकते हैं। आपको अपने जीवनसाथी से बहुत लाभ मिलता है। आपका पार्टनर किसी अच्‍छे और समृद्ध परिवार से ताल्‍लुक रखता है। आपमें एक बेतहरीन वक्‍ता के गुण होते हैं।
बारहवा भाव
आपका जीवनसाथी बहुत खर्चीला होता है। आपको अपने पार्टनर से लंबे समय तक दूर रहना पड़ सकता है। यहां तक कि आपका तलाक भी हो सकता है। आपके जीवनसाथी का चरित्र संदेहपूर्ण हो सकता है। आप कंजूस स्‍वभाव के होते हैं। आपका पार्टनर अध्‍यात्‍म में रूचि रखता है। अपने पार्टनर के साथ आपके वैचारिक मतभेद रहते हैं। आप अपनी चीज़ों और बातों को सिर्फ अपने तक ही रखना चाहते हैं। आपका जीवनसाथी किसी दूसरी संस्‍कृति या धर्म से हो सकता है।



No comments:

Post a Comment

Bhava Lords in Houses