Sunday, February 23, 2014

VENUS TRANSIT IN CAPRICORN

VENUS IN CAPRICORN 2014
On 26th february Venus will be moving to capricorn a sign of his good friend saturn. She will be joining regtrograde mercury. Capricorn is an earthy sign,  which is secretive also. The transit will be having following effects on the natives:
1)      ARIES: Venus is maraka planet for aries, being lord of 2 and saturn is badhaka being lord of 11. Venus will be in sign of saturn thus maraka badhaka will be joining hands in a way. It will pass through uttrashadaha , shravan and dhanishta constellations.planet gives result of its star lord and the nature is decided by the sub it occupies during transit. The natives will have problems in personal life, delays in getting results, their house will be needing extra attention and there may be problems from children. There could also be loss in speculation.
2)      TAURUS: There will be pious deeds performed by you to show off. Long travels are also there. Servants and pets will give problems. There could be trouble in digestive organs too. You will get name and fame.
3)      GEMINI: there will be gains from opponents, you will make wealth. But you will lack confidence and that will be a problem. Your duality will be the sourceof delays. There will be innate desire for secret unions and such acts.
4)      CANCER: you will have disease related to secretion of fluids and proper circulations. Gains from spouse or partners are also there for you. There will goodness in work sphere and you might think of expansion.
5)      LEO: venereal diseases may catch you. You will make good money. There will be expenses beyond control. You will be investing in real estate or think of mortgaging your immovable assets.
6)      VIRGO: YOU will have good time in the beginning and then there will be hurdles. Interest in romance music arts will increase, if you are from such fields then this will be a goood transit for you initially. There will be sudden delay and losses in the last phase.
7)      LIBRA: If you are going through bhukti or antara of venus then this will be a promising period for you, there will be name in work field and performance will become better. There will be new contacts. The last phase may give you some setbacks.
8)      SCORPIO:  Ascendant lord is going afflicted these days and creating turmoils worldwide. You also will not be unscathed. This transit will be more on the negative side for you. You will have mating in this transit, with your known or unknown persons. Friends will be helpful. You may try to use occult tricks to get your things done secretly.
9)      SAGITTARIUS: VENUS rules 6th and 11th house and will be transiting in 2nd house of money, but nothing much will be realised because the stars in which it will transit are not very favorable for earnings. Ascendant lord itself is running retrograde. You will gain name and popularity but not money for the time being. There will be small incidents of accomplishments but nothing bigger.
10)   CAPRICORN: Love is in the air, was a very nice song and will be coming true for you in this time, though you people arent much openly showing your inclination towards this human nature. If you are looking for love try in this period, married people will have good time. Aspect of mars and proximity with mercury will give you chances for union but it will be short termed. So make the most of it.
11)   AQUARIUS: you may change your residence or office. You will have expenses on useless things. You will be getting more addicted if already are, towards the prohibited norms of society. You will have name and fame but not much monetory gains. So something is better than nothing should be the thought for the time being.

12)   PISCES: this will be a good time for you. There will be monetory gains, name fame and popularity. You will do short travels. There will be gains form unexpected sources. You may become a victim of black magic so you need to be careful in your outings and eatings away from home.

शुक्र का मकर में गोचर

शुक्र का मकर में गोचर 
२८ फरवरी को शुक्र मकर राशी में प्रवेश करेगा  जो की सके मित्र की राशी है , वक्री बुध भी यहाँ उपस्थित है .इसके निम्न प्रभाव हो सकते हैं :
1)      मेष : कार्यों में विलम्ब और मानसिक तनाव रह सकता है .घर और संतान पक्ष से समस्या आ सकती है .सट्टे में धन हानि हो सकती है .
2)      वृषभ : आपके द्वारा धार्मिक कार्य हो सकते हैं ,लम्बी यात्रा हो सकती है ,नौकरों और पालतू जानवरों से कष्ट हो सकता है , अपच की भी सम्भावना है किन्तु आपको नाम और सम्मान की भी प्राप्ति के योग बने हुए हैं .
3)      मिथुन : विरोधियों से धनलाभ हो सकता है ,किन्तु आपका आत्मबल कम ही रहेगा जिसके कारण दिक्कत आएगी और आपकी दुविधा पूर्ण विचारशैली भी समस्या देगी. आपको गुप्त सम्बन्ध बनाने में बहुत रूचि जाग्रत होगी .
4)      कर्क : आपको शरीर के जल स्त्राव आदि कार्य के कारण दिक्कत आ सकती है .पत्नी या पति के द्वारा लाभ की भी संभवना है. कार्य क्षेत्र अच्छा रहेगा और आप अपने स्तर को बढाने के लिए भी सोच सकते हैं.
5)      सिंह : गुप्त रोग परेशान कर सकते हैं , धन की आवक अच्छी रहेगी . खर्चे नियंत्रण के बहार होंगे. आप भूमि भवन आदि में या तो निवेश कर सकते हैं या अपने पास खरीदे हुए को बेचने का सोच सकते हैं.
6)      कन्या : शुरू में तो अच्छा रहेगा किन्तु बाद में समस्या आएगी .संगीत , रोमांस आदि में रूचि बढ़ेगी और यदि आप फिल्म कला आदि के क्षेत्र से हैं तो यह आपके लिए शुरुआत में बहुत अच्छा गोचर सिद्ध होगा .
7)      तुला : यदि आप शुक्र की भुक्ति या अंतर में चल रहे हैं तो यह आपके लिए सुखद समय है . आपको नाम और सम्मान मिलेगा .नए मित्र आ सकते हैं . प्रेम प्रसंग भी हो सकता है .
8)      वृश्चिक : यह आपके लिए अधिक शुभ नहीं होगा,आपको शयन सुख तो मिलेगा पर रोग ग्रस्त भी हो सकते है .मित्र सहायता करेंगे .आप काला जादू आदि का सहारा ले सकते हैं.
9)      धनु : लग्नेश वक्री है , नाम तो होगा पर फायदा नहीं मिलेगा , धन की आवक भी बहुत ख़ास नहीं रहेगी . कार्य संपन्न तो होंगे मगर जैसे आप चाहते थे वैसा नहीं होगा .
10)   मकर :यह समय आपके लिए अधिकतर सुखद ही रहेगा , प्रेम आदि के बारे में सोच सकते हैं . शारीरिक सम्बन्ध भी बन सकते हैं .विवाहित लोगों के लिए अच्छा समय है .साफ़ सफाई और समयबद्धता भी आपके मन में रहेगी.
11)   कुम्भ : आपका घर या कार्य क्षेत्र बदल सकता है ,बेकार की चीएजों पर व्यय होगा .आपमें व्यसनों की लत और गहरा सकती है .नाम और प्रसिद्धि तो होगी मगर धन नहीं आएगा .

12)   मीन :आपके लिए यह अच्छा समय है , धन लाभ होगा , नाम प्रसिद्धि होगी . छोटी यात्रा होगी .अकस्मात धन प्राप्ति भी हो सकती है. आप पर भूत बाधा डाली जा सकती है अतः अपने मिलने जुलने वालों से और खान पान में सावधानी रखिये .

Friday, February 14, 2014

सूर्य का कुम्भ में गोचर 2014

सूर्य का कुम्भ में गोचर  2014
ग्रहों के राजा सूर्य कुम्भ में विचरण करने वाले हैं. कुम्भ उनके पुत्र और शत्रु शनि की ज्ञानवान राशि है जिसमें मंगल राहू और गुरु के नक्षत्र आते हैं.सूर्य के साथ बुध भी आ जाएय्गा और दोनों पर ब्रहस्पति की द्रष्टि  भी पड़ेगी . बुध और ब्रहस्पति वक्री है , इसके सामान्य प्रभाव निम्न हो सकते हैं :
1)      मेष :आपको कुछ समय के लिए प्रसिद्धि मिल सकती है , बच्चे बीमार हो सकते है , आपके द्वारा हास्यास्पद त्रुटियाँ हो सकती है , अधिकारी वर्ग का मिजाज़ नरम गरम होता रहेगा .घर में क्लेश रह सकता है .
2)      वृषभ  : आपको ऋण मिल सकता है , कार्य में प्रगति है ,आपको आलस और कमजोरी रह सकती है , उलटी आँख में परेशानी हो सकती है .
3)      मिथुन : आप प्रतिस्पर्र्धा में हार सकते हैं ,निवेश में भी हानि की संभावना है ,दोस्तों के साथ मौज मस्ती पर जा सकते हैं धार्मिक कार्य भी कर सकते हैं , आप में से कुछ प्यार और मन की शांति के लिए भटकेंगे.
4)      कर्क : कार्य में प्रगति है , घर में कुछ बदलाव कर सकते हैं ,आप बच्चों से दूर जा सकते हैं कुछ दिनों के लिए ,घर में वृद्ध लोगों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना है .
5)      सिंह :यदि समय चल रहा है तो कन्या का जन्म हो सकता है ,आपको क्रोध अधिक आएगा , कार्य में और ऊर्जा से लगे रहेंगे ,छोटी यात्रा भी कर सकते हैं , लोग आपसे सलाह मशवरा करेंगे और आप प्रसिद्द होंगे.
6)      कन्या : उन्नति बनी हुई है , नौकरी या धंदा दोनों ही फायदेमंद रहेंगे .निजी जीवन में तकलीफ रहेगी .आपक कार्य की अधिकता से बीमार भी हो सकते हैं .
7)      तुला : आप इस माह में मुकदमा आदि दाखिल कर सकते हैं ,वह निजी जीवन से समबन्धित हो सकता है ,आपको सहयोग भी मिलेगा और उन्नति होगी ,भाग्य साथ देगा ,अच्छा समय रहेगा .
8)      वृश्चिक : लम्बी यात्रा कर सकते हैं ,स्वयं पर कम ध्यान रहेगा ,कार्यों में देरी होगी ,आप म्हणत करेंगे पर फल नहीं मिलेगा ,खर्चे बढ़ेंगे .
9)      धनु :पिता का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा ,भाग्य साथ देगा ,कानूनी मसलों में सफलता मिलेगी. कार्य क्षेत्र में बहुत उन्नति नहीं है .
10)   मकर :पुराना धन वापस मिल सकता है ,आम तुअर पे अच्छा समय ही बना रहेगा किन्तु अंत में खर्च बढ़ जायेंगे .तानव् भी रह सकता है .
11)   कुम्भ : यह माह हानियों से भरा हुआ है ,आप ध्यान नहीं केन्द्रित कर पायेंगे ,मन में दुवुधा बनी रहेगी ,खर्च पर नियंत्रण नहीं होगा .
12)   मीन :यह माह हर प्रकार से शुभ है .आप खुश रहेंगे जो की सबसे बड़ी संपत्ति है ,थोड़ी बहुत स्वास्थ्य को लेके चिंता रह सकती है .



Wednesday, February 12, 2014

SUN IN AQUARIUS

SUN IN AQUARIUS 
Sun  the ruler of planetary kingdom, will be moving to Aquarius, the sign of knowledge ruled by Saturn – the son of sun. It will be passing through constellations of Mars,Rahu, Jupiter. It will be joining Mercury and will be aspected by Jupiter. Both these planets are retrograde. The general effects on various ascendants would be :
1)      ARIES: you will be making erroneous judgments. Your children may become ill and their scholastic performance will become inferior. You will be prone to fevers and sickness. There will be strife in the family. You may meet old friends and gain popularity for a while but you will not enjoy it.
2)      TAURUS: You may apply for a loan. There will be professional progress. You will lose money in speculation. You will be hiding you innate desires from others. There could be trouble in left eye. You will feel weak and lethargic.
3)      GEMINI: you will lose in competition. There is possibility of losses in speculative activities. You may go to meet friends and take one a leisure trip of long distance with them. You will do religious deeds. Some of you may be looking for love and solace.
4)      CANCER: There will be professional progress. You may renovate your home. You may move away from your kids for a while. Health of elders may become a cause of concern.
5)      LEO: There will be birth of daughter, if expecting. Good month for you from many aspects. You will become more aggressive and hot headed. You will have short journeys. You will become popular and people will share their thoughts with you.
6)      VIRGO: there will be professional success. Your job or business will be good. Personal life will be very adverse. There will be several ups and downs this month for you. You may become ill due to workloads.
7)      LIBRA: you may go for a lawsuit in this month. Personal life could be the reason. There will be favors done towards you and you will rise professionally. Luck factor will be with you. You will have good time.
8)      SCORPIO: long journeys are there for you, so is lack of attention towards self. Efforts will not yield much result. You will work very hard but in vein. Expenses will tantamount.
9)      SAGITTARIUS: Health of your father will improve, you will see luck factor working towards you. There will be success in legal matters and in general this will be good period. Work front will not be very encouraging.
10)   CAPRICORN: You will get old money back; will have gains through policies etc. You will have good time overall. There will be personal and professional satisfaction and success but in the last phase there will be expenses and anxieties.
11)   AQUARIUS: this month will be full of travels and losses. You will try to concentrate but will not be successful. You will be having duality in coming to a decision. You will have expenses beyond control.
12)   PISCES: this will be a good month personally and professionally. You will remain good and happy mostly which is most important thing in life. The only problem will be of health which may get beyond repair if not taken seriously. So please look into it and get proper medication for anything small also.


Wednesday, February 5, 2014

मंगल का तुला में गोचर

मंगल का तुला में गोचर
४ फरवरी को मंगल अपने ही जैसे क्रूर् ग्रहों शनि और रहू से युति करने वाला है.अभी तो मंगल कुछ दिन में वक्री हो जाएय्गा मगर जब वापस तुला में आएगा तब निश्चित ही विश्व का माहोल और ख़राब होगा. हम देखेंगे की वायु दुर्घटना बढ़ जायेंगी और रेल दुर्घटना भी बढेंगी.तीनों में रहू सबसे ख़राब गृह है और शनि रहू मंगल मिलकर बहुत उत्पात मचाएंगे. राहू के कारण मंगल प्रधान लोगों की पाशविकता बढ़ जायेगी और वे घिनोने कृत्य अंजाम देंगे. चोरी डकैती बलात्कार लूट की घटना बढ़ जायेंगी. आगजनी की घटनाएं और बढ़ जायेंगी. स्त्रीयों पर अत्याचार बढ़ेंगे और हम समाचार पत्रों में जघन्य हत्या और बलात्कार की खबरें अधिक देखेंगे. स्त्रीयां आत्महत्या भी करेंगी. कानून धर्म फिल्म जगत के लोगों के लिए अछ्हा समय नहीं रहेगा. जहरखुरानी की घटनाएं बढ़ जायेंगी. विभिन्न लग्न के जातकों पर इसका निम्न प्रभाव पढ़ सकता है:
1)      मेष :सप्तम में शनि रहू पहले से ही बैठे हैं और मंगल के आने से आपका पारिवारिक जीवन अस्तव्यस्त हो सकता है .आपको नेत्रों , पेट और गुप्तांगों में समस्या आ सकती है.आपको अपना आप नहीं खोना है अन्यथा आप बड़ी मुसीबत में पड़ सकते हैं.
2)      वृषभ : आपको कानूनी समस्या परेशान कर सकती है .शत्रु हावी होंगे .मान सम्मान को हानि पहुँच सकती है .आप खराब भोजन के कारण अस्पताल जा सकते हैं.धन हानि और मानसिक शांति की हानि होगी.
3)       मिथुन : आपकी संतान कष्ट में आ सकती है. उनको छोटी मोटी चोट लग सकती है या दुर्घटना हो सकती है .आपकी जांघें और गुप्तांगों में समस्या आ सकती है . इस समय किसी अनजान विपरीत लिंग के जातक के साथ नज़दीक होने से बचना चहिये.
4)      कर्क : आपको कई समस्याओं से जूझना पड़ेगा .इस लग्न की स्त्रीयों को अत्यधिक मानसिक तनाव का सामना करना पड़ेगा.आप में से अनेकों को अस्पताल के दर्शन करने पड़ सकते हैं.भाग्य साथ नहीं देगा.खर्चे बहुत होंगे और उन पर आप नियंत्रण नहीं कर पायेंगे.
5)      सिंह : आपको यह गोचर लाभ देगा. शत्रु पर विजय मिलेगी .किन्तु आपको अपने कार्य और व्यवहार को संयमित रखना होगा. आपके यहाँ चोरी हो सकती है और कीमती सामान जा सकता है. स्त्री द्वारा मानहानि हो सकती है.
6)      कन्या : परिवार में मतभेद रहेगा.मारपीट की नौबत भी आ सकती है.आपको कमजोरी महसूस होती रहेगी.शरीर में जल तत्व की कमी हो सकती है.पत्नी /पति के कारण अधिकतर समस्या आ सकती हैं.
7)      तुला :मेष और तुला दोनों ही लग्नों में रहू केतु १-७ अक्ष पर विराजमान हैं. अतः पारिवारिक समस्या आना निश्चित है .छोटी से बात भी आग में घी का काम कर सकती है. अगर आपको अभे तक अपने साथी से पीछा छुडाने का कोई कारण नहीं मिला है तो अब मिलने की पूरी संभावना है .
8)      वृश्चिक :जब तक मंगल तुला में रहेगा आपके लिए अच्छा फल देगा किन्तु मंगल थोड़े ही दिनों में वक्री होकर वापस कन्या में जाने वाला है. इस थोड़े समय में भी आपको अच्छा महसूस होगा , आपके मित्र परिचित साथ देंगे पर बाद में आपको नुक्सान ही होगा.अतः समझदारी इसमें ही रहेगी की थोड़े दिन की अच्छी घटनाओं से खुश न हो जाइएगा.
9)      धनु : आपको यह गोचर पूर्ण अच्छा रहेगा. छोटी मोटी बातों के अलावा कुछ ख़ास नहीं है. सभी नक्षत्र जिनमें मंगल का भ्रमण होगा वोह आपके लिए ठीक ही रहेंगे.
10)   मकर : आप नौकरी बदलना चाह रहे हैं, आपको मानहानि का सामना कर पड़ सकता है. शरीर के विभिन्न अंगों में असहजता बनी रहेगी. कमजोरी महसूस करेंगे .आप ख़राब भोजन का शिकार भी हो सकते हैं .किन्तु इन सबके बावजूद आपको धन की प्राप्ति बनी रहेगी.
11)   कुम्भ : आपको अपने ही कृत्यों के कारण मानहानि का सामना करना पड़ेगा. सावधान रहिये .क़र्ज़ बढ़ेंगे.बीमारियाँ आ सकती हैं .आप अनैतिक कृत्यों में लिप्त हो सकते हैं.आपकी नौकरी छूट सकती है .आपको गुप्त धन की प्राप्ति हो सकती है.

12)   मीन : निजी जीवन काफी प्रभावित होगा .परिवार में सामंजस्य नहीं रहेगा.आपको अदालत जाना पड़ सकता है .संतान से समस्या हो सकती है .पेट दर्द की शिकायत हो सकती है .हाजमा खराब हो सकता है.आपके वाहन में सुधार की आवश्यकता आ सकती है.रोज़मर्रा के जीवन में देरी और कठिनाई का सामना कर सकते हैं.

MARS TRANSIT IN LIBRA

MARS TRANSIT IN LIBRA
Mars will be joining rahu and saturn in Libra on 4th february and will make things worse than they already are. Three malefics together in an airy sign are enough to crash many flights worldwide and make trains collide with each other causing many deaths. Rahu is the most malefic planet here increasing the beastial instinct of mars and secrecy of saturn. We will see many bad news making way in the front pages of national and international newspapers and electronic media in the period till mars remains in Libra. Incidents of thefts, dacoity, death by poisoning etc will increase and fire incidents will also increase in this time. Female security and respect will remain in question as usual and we may hear more news of females committing suicide and succumbing to social pressures. This will not be a good time for religious people, law people, film and fashion industry people etc. The general effects on various ascendants will be :
1)      ARIES: Saturn and rahu are there in your seventh house  and Mars will come to ignite the fire of separation. You will have eye troubles and stomach troubles also this time, which may be of serious nature and need operation. Remain in control of your brain and not get swayed away by furious emotions.
2)      TAURUS: This transit will be giving you legal problems, disease, troubles from enemies. There will be loss of fame and name. There could be intake of stale food leading to doctor for remedial measures. There will be loss of money and happiness of mind.
3)      GEMINI: Your children will fall sick and may meet small accidents and bruises. Thighs and generative organs may be affected. It is not a good time for getting intimate with unknown or lesser known opposite sex.
4)      CANCER: You will find it difficult to tackle the problems of your life. Women folk of this sign will suffer a lot mentally. Hospitalization seems necessary for many of you. Luck factor will not work for you most of the time during this period. There will be wastages beyond control.
5)      LEO: There will be relief and gains and win over opposition. You need to be careful about your acts and decisions. There could be loss of articles and burglary in your home. You need to be careful otherwise you will face disrepute due to opposite sex.
6)      VIRGO: There will be strife with family members. There could be quarrel leading to physical abuse. It is better to be in control of self and not allow thoughts take over your brain. You will feel less healthy and strong. There will be lack of water in the body. Spouse will be a source of major problem.
7)      LIBRA: Aries and Libra will have Mars, Rahu and Saturn on 1-7 axis which is very bad for martial progress. You need to be careful as even small things can take bigger shape and ruin the future. All three are separatist planets, those looking for a separation but not finding a reason will easily be able to do so during this time.
8)      SCORPIO: You will have good time initially as there will be merry time. You will gain money, friends, good will during this time. You will have success in many of your efforts. There could be relocation. You may move to a foreign land for some time. There will be losses and wastages. You will have strife with family members. Largely speaking, this will not prove good to you for long, as soon mars will retrograde in Libra just after reaching 3 degrees. It is advisable to not move away with the initial goodness, which will come to you.
9)      SAGITTARIUS: You will be having good time throughout the transit, as both the houses 10 and 11 are favorable for Mars transit. Apart from small things like possible foreign travel and increased work load there will be only beneficial events happening around you. In all the constellations, it will more or less be productive for you. If you are running its main period then the effects will be least, if sub period then the effects will be maximum.
10)   CAPRICORN: You will be looking for a change in job, there will be loss of fame. There will be troubles in parts of body. You will feel weakness in yourself. The temperature of your body will remain high. You may consume stale or otherwise bad quality food that will take you to hospital. There will be problems in business but apart from all this you will gain money.
11)   AQUARIUS: You will face defamation due to your own acts. Debts will surmount you. There will be diseases coming to you. You will be disrespected by your juniors and younger’s. You will have hidden gains. You will perform immoral acts. You may lose your job or perform very bad during the time. Personal life will be tensed. Your father may face health issues. You may meet with an accident. You will lose support from your well wishers.
12)   PISCES: Personal life will be affected to a major extent. There will discord in family, most of the time. There will be gain of money through debts. You may face legal issues. You will be having lack of vitality in your organs. There is possibility of losing the current job. Children will give trouble. There will be stomachaches and irregularity in daily habits. There will delays in your day to day work and in achieving your professional targets. Your vehicle will require repairing.
Remedial Measures:
Reciting sundarkand and hanuman chalisa daily will definitely cover many things that you might face in the absense of these hymns.




Monday, February 3, 2014

ज्योतिष और मनुष्य के अनैतिक यौन सम्बन्ध

                ज्योतिष और मनुष्य के अनैतिक यौन सम्बन्ध
ज्योतिष ज्ञान का अथाह सागर है जिसमें जाने पर थाह नहीं मिलती. गुरूजी कृष्णामूर्ति जी ने ज्योतिष को नयी दिशा दी और उनके सिद्धांतों का अनुसरण करने वाले लोगों ने उसे नयी ऊँचाइयों पर पहुँचाया. और यह प्रयास सतत जारी है.Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now. मनुष्य के जीवन में कई बार ऐसे मोड़ आते हैं जहाँ उसे नैतिक और अनैतिक में से एक का वरन करना होता है और इस कलयुग में मनुष्य की लिप्सा और तृष्णा का कोई अंत नहीं है चाहे वह स्त्री हो या पुरुष.
आज के समय में किसी को अच्छे बुरे की परवाह नहीं है और सभी लोग अंधों की तरह अपने स्वार्थों की पूर्ती करने में लगे हुए हैं. हम रोज़ ही अखबारों में पढ़ते रहते हैं की फलां स्त्री का अनैतिक यौन समबन्धों के कारण क़त्ल हो गया, फलां के साथ वैसा हो गया. आजकल स्वाप्पिंग का चलन भी बहुत हो चूका है और हमारे जाने बिना यह बढ़ता ही जा रहा है. कॉलसेंटर कल्चर ने भी स्त्री पुरुष के विवाह पूर्व और विवाहेतर समबन्धों को बढाने में बहुत योगदान दिया है. इन्हीं सब कारणों के चलते विवाह नाम की क्रिया और परिवार नाम का संस्थान बहुत अन्धकार में जा चूका है.Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now. यहाँ तक की बड़े परिवारों में रक्त सम्बंधोयों के मध्य ही  यौन सम्बन्ध स्थापित हो जाते हैं और किसी को पता नहीं चलता. जब तक पता चलता है तब तक देर हो चुकी होती है.
पंचम भाव और पंचम का उपनक्ष्त्र स्वामी विवाह पूर्व प्रेम सम्बन्ध, शारीरिक सम्बन्ध आदि के होते है अन्य बातों के अलावा, शुक्र काम का मुख्य करक गृह है और रोमांस प्रेम आदि पर इसका अधिपत्य है. मंगल व्यक्ति में पाशविकता और तीव्र कामना भर देता है और शनि गुप्त रास्तों से कामाग्नि की पूर्ती करने को प्रेरित करता है.
 “Astrology and Human Sex life” पुस्तक में  Robson ने लिखा है : यदि शुक्र पर मंगल की द्रष्टि हो , दोनों गृह एक दुसरे की राशियों में हो तो व्यक्ति का अपनी बहिन या भाई या रक्त सम्बन्धियों से यौन सम्बन्ध स्थापित होता है. और साथ ही यदि शुक्र के साथ चन्द्रमा हो – पुरुष की कुंडली में , तो वह अपनी बहिन या अन्य निकट सम्बन्धियों से यौन सम्बन्ध स्थापित करता है. Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now.यदि वही शुक्र गुरु के साथ हो स्त्री की कुंडली में तो वह अपने भाई या अन्य निकट सम्बन्धियों से सम्बन्ध स्थापित करती है.
शुक्र पर शनि की द्रष्टि अथवा शनि शुक्र के मध्य नक्षत्र परिवर्तन हो तो वह सम्बन्धियों से यौन सम्बन्ध दर्शाता है.स्त्री की कुंडली में यह पुत्र अथवा दामाद से सम्बन्ध दर्शाता है और यदि सूर्य की जगह चन्द्र हो और शुक्र मंगल सूर्य के पहले हों तो यह पुरुष की कुंडली में पुत्री अथवा बहु और स्त्री की कुंडली में पिता, चाचा अथवा अन्य सम्बन्धियों से यौन सम्बन्ध प्रदर्शित करता है .
एक सुशील स्त्री के बारे में गुरूजी श्री कृष्णामूर्ति जी ने कहा है की यदि सप्तम भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी शुक्र , शनि अथवा मंगल न हो और वह शनि शुक्र मंगल के नक्षत्र में न विराजमान हो तो वह स्त्री पूर्ण चरित्रवान होगी.यदि उसका लग्न लाभेश के नक्षत्र मैं हो और उसपर गुरु की द्रष्टि होBest Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now.तो वह निश्चित ही पूर्ण रूप से संयमित होगी.
कुंडली का अष्टम भाव अन्य बातों के अलावा यौन संबंधों और क्रिया से सम्बन्ध रखता है.
यदि किसी व्यक्ति का १,५,११ भाव का सम्बन्ध मंगल शुक्र शनि से हो , वह स्वामित्व भी हो सकता है और राशी नक्षत्र और उपनक्ष्त्र के रूप में भी हो सकता है और मंगल शुक्र १ और ११ के कार्येष गृह हो सकते हैं जिन पर शनि की द्रष्टि पड़ रही हो तब निश्चित ही व्यक्ति के अन्दर , चाहे स्त्री हो या पुरुष , Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now.उन्मुक्तता की भावना रहेगी और दशा अंतर आने पर वह इन कृत्यों में लिप्त होकर ही रहेगा.
स्त्री की कुंडली
22-8-1962, doha, qatar.
यह एक अत्यधिक सुंदर स्त्री की कुंडली है जिसको १९ वर्ष में ही क़तर एयरलाइन्स में होस्टेस की नौकरी मिल गयी थी. एक यात्री को वह बहुत पसंद आ गयी और उसने इस महिला से शादी कर ली. वह व्यक्ति करोडपति है. बहुत साल की शादी के बाद दोनों का तलाक हो गया , इस स्त्री के एक २१ वर्षीय लड़के से अनैतिक सम्बन्ध थाBest Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now. जिसके कारण उसने अपने पति को छोड़ दिया . वह लड़का उसके पुत्र का सहपाठी था. जब उस लड़के का मतलब निकल गया तो उसने इस स्त्री को छोड़ दिया. इस स्त्री के अनगिनत लोगों से सम्बन्ध रहे और इसने कभी भी उसको अनैतिक नहीं समझा. मैंने जब इसका हाथ देखा था तो मैंने इसको बता दिया था की इसका किसी बहुत मक आयु के पुरुष से प्रेम सम्बन्ध है और इसका तलाक होने वाला है . २००१ के बात है. यह अब बॉम्बे में किसी धनवान व्यक्ति के साथ गुजर बसर कर रही है.
प्रथम भाव शुक्र के नक्षत्र और शनि के उपनक्ष्त्र में है ,पंचम भाव भी शुक्र के नक्षत्र और शनि के उपनक्ष्त्र मैं है ,११वें भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी शनि है. शुक्र पर मंगल की द्रष्टि है.यह अत्यधिक मदिरा पान करती थी और अन्य नशों की भी इसको लत थीBest Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now. .


22-10-1968, पुरुष , 77E43-22N45
शुक्र स्वयं ही लग्न में है और मंगल से द्रष्ट है .शुक्र मंगल की राशि में है. ११वें भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी शुक्र है ,पंचम भाव शनि के नक्षत्र और शुक्र के उपनक्ष्त्र में है ,अष्टम का उप्नाक्ष्त्र स्वामी लाभ में है , गुरु भी शनि के उपनक्ष्त्र में है. इस व्यक्ति को याद भी नहीं है की इसका कितनी महिलाओं से यौन सम्बन्ध रह चूका हैBest Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now..


पुरुष ,19-3-1973, 83E24, 21N54.
शनि लग्न में है और शुक्र पर द्रष्टि है , पंचम भाव शुक्र के नक्षत्र और मंगल के उपनक्ष्त्र में है. ११वे भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी सूर्य है जो शनि के नक्षत्र और उपनक्ष्त्र में है. सूर्य बुध शुक्र ११वे भाव में हैं.Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now. ये समाचार मीडिया के एक बहुत बड़े संस्थान में बहुत बड़े पद पर विराजमान है.इसके जीवन में कई इस प्रकार के सम्बन्ध रहे हैं Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now..


20-3-1955,13:42:40.
शनि की मंगल और लग्न पर द्रष्टि है , शुक्र सप्तम में चन्द्र के साथ है ,शनि शुक्र के उपनक्ष्त्र में है, मंगल शनि के नक्षत्र और शुक्र के उपनक्ष्त्र में है. इस जातक के कई देशी और विदेशी महिलाओं से शारीरिक सम्बन्ध रहे हैं. यह स्वयं बहुत ख्यति प्राप्त विद्वान् ज्योतिषी है Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now..
 कुण्डलियाँ बहुत दी जा सकती हैं मगर मुझे उम्मीद है की पाठक समझ गए होंगे की किन ग्रहों की युति द्रष्टि नक्षत्र आदि के कारण व्यक्ति इन सब कार्यों की ओर अग्रसर हो जाता है. Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now.दशा भुक्ति और अन्तर का इसमें सबसे बड़ा योगदान होता है क्योंकि ऐसे योग हो तो बहुत लोगों की कुंडली में सकते हैं मगर फलीभूत तभी होते हैं जब सही दशा मिल जाती है. गुरूजी कृष्णामूर्ति जी की पद्धति अचूक और सटीक है इसमें कोई दो मत नहीं है Best Sex pills for men. Amazon delivered. Buy Now..



Bhava Lords in Houses