Friday, October 2, 2015

कन्या लग्न फल २०१६

                                      






                                                     कन्या लग्न फल २०१६

वर्ष २०१६ की शुरुआत हो रही है शनि के वृश्चिक में , गुरु सिंह में , राहु - केतु ३१ जनवरी तक अपनी वर्तमान राशियों में रहने के बाद सिंह में राहु का प्रवेश होगा और  कुम्भ में केतु का। आपके जीवन के विभिन आयाम किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं तथा आपको क्या उपाय  करने चाहिए और किन तारीखों में आपको बड़े निजी अथवा सामाजिक निर्णय लेने से बचना चाहिए यह सब मैं ज्योतिषीय गणना द्वारा आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ। आशा है नववर्ष आपके लिए शुभ रहेगा।

१) पारिवारिक स्थिति : आपके सम्बन्ध आपके जीवनसाथी के साथ बहुत मधुर नहीं रहेंगे , आप लोगो में कुछ समय या अधिक समय के लिए अलगाव हो सकता है जिसका कारण आपसी तालमेल की कमी अथवा नौकरी भी हो सकता है। छोटी मोटी बात भी बड़ी बन सकती है। माता - पिता  के साथ आपकी अच्छी निभेगी किन्तु वैचारिक मतभेद कभी कभी तकलीफदेह स्थिति तक चला जायेगा। आपके भाइयों से आपका विवाद संभव है। आपके मामा से आपकी कम बनेगी।
किन्तु कुल मिलाकर स्थिति आपके पक्ष में आती जायेगी ११ अगस्त के बाद।

रेटिंग : ३/५

२) स्वास्थ्य : ११ अगस्त तक आपको स्वास्थ्य को लेकर भी काफी परेशानी रह सकती है। आपको शारीरिक के साथ साथ मानसिक परेशानी भी झेलनी हो सकती है। आपके गले , चेहरे , पाचन तंत्र , आँतों में समस्या आ सकती है। उचित खानपान और व्यायाम ही इसका एकमात्र  उपाय है। आपको गैस्ट्रिटिस भी हो सकता है। आपको कोई पुराना रोग परेशान कर सकता है।

रेटिंग : २/५

३) आर्थिक स्थिति : आपको आर्थिक रूप से हानि संभव है , गुरु धन के कारक ग्रहों में से एक है , वही १२वें घर में  जाने से आपको धन हानि के बहुत योग हैं।  आपको इस वर्ष धन के मामलों में किसी के द्वारा धोखा दिए जाने की भी संभावना है।  अतः अपने क्रियाकलापों में सावधानी रखें और पैसे के लेनदेन को विश्वस्त लोगों के साथ भी पूरी लिखा पढ़ी करने के बाद ही करें।  आपको आपके ही किसी विश्वस्त अधिक उम्र के व्यक्ति से हानि संभव है।

रेटिंग : २/ ५

४) नौकरी : आपके दशम भाव पर किसी भी गृह की दृष्टि नहीं है और यह आपके लिए अच्छा ही है। मीडिया से जुड़े लोगों को इस वर्ष लाभ रहने वाला है। आपकी प्रगति सामान्य ही रहने वाली  है। अगस्त के बाद आपकी प्रगति बढ़िया होगी और आपको अपने कार्यक्षेत्र मैं नाम मिलेगा। आपको आपके अधिकर्रियों से भी यथासंभव सहायता मिलें लगेगी जिससे आपका कार्य और  हो जायेगा।

रेटिंग : ३/५

५) व्यवसाय : इस लग्न  के व्यापारियों के लिए भी समृद्धि ११ अगस्त के बाद ही आएगी , यदि आपकी गुरु अथवा शनि  चल रही है  तो आपको अगस्त तक संयम रखना पड़ेगा और बड़े निवेश करने से बचना पड़ेगा। आप अपने धन को संचय करने के विषय में अधिक विचार कीजिये , अगस्त के बाद स्वयं ही मार्ग प्रशस्त हो जाएगा। किसी भी बड़ी साझेदारी आदि को भी अगस्त तक टाल के रखना ही उचित रहेगा।
रेटिंग : ३/५

६) प्रेम सम्बन्ध : प्रेम सम्बन्ध आपके इस वर्ष अच्छे बने रहेंगे। आप यदि अभी किसी सम्बन्ध को स्थापित करना चाह रहे हैं तो आपको उसमें अच्छी सफलता मिलेगी ही जिनके सम्बन्ध चल ही रहे हैं उनको भी इस वर्ष अपने संबंधों की वजह से काफी आत्मिक सुख मिलेगा , अगस्त तक आपको थोड़ा सा ध्यान यह रखना है की शक शुबहा से दूर रहिये और किसी भी प्रकार की ऋणात्मकता से स्वयं को दूर रखिये।

७) सेक्स लाइफ : आपकी सेक्स लाइफ इस वर्ष अच्छी रहेगी। यद्यपि आपको गुप्तांगों में कभी कभी कोई समस्या आ सकती है और अतिरिक्त शिथिलता का अनुभव हो सकता है किन्तु यदि पूरे वर्ष के हिसाब से देखें तो आपको यह वर्ष इस आयाम में काफी सुखी करने वाला है। आपमें व्यभिचारिता के प्रति भी आकर्षण जन्म सकता है और उससे भी आपको सुख ही मिलेगा। जहां तक हो अपने अनैतिक संबंधों को अगस्त के बाद कम उपयोग कीजियेगा।

८) सावधानी के दिन : 16 farwari se 12 march में आपको धन को संभाल कर रखना है और व्यर्थ के खर्च से बचना है , कोई बड़े निवेश नहीं करने हैं , कोई बड़े निर्णय नहीं लेने हैं। चन्द्रमा जब सिंह , कुम्भ अथवा मेष में हो तब मन को शांत रखना है और यात्रा को टाल देना चाहिए।