Friday, October 2, 2015

सिंह लग्न फल २०१६

                                                सिंह लग्न फल २०१६

वर्ष २०१६ की शुरुआत हो रही है शनि के वृश्चिक में , गुरु सिंह में , राहु - केतु ३१ जनवरी तक अपनी वर्तमान राशियों में रहने के बाद सिंह में राहु का प्रवेश होगा और  कुम्भ में केतु का। आपके जीवन के विभिन आयाम किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं तथा आपको क्या उपाय  करने चाहिए और किन तारीखों में आपको बड़े निजी अथवा सामाजिक निर्णय लेने से बचना चाहिए यह सब मैं ज्योतिषीय गणना द्वारा आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ। आशा है नववर्ष आपके लिए शुभ रहेगा।

१) पारिवारिक स्थिति : यह वर्ष जिन लोगों के लिए सबसे अच्छा होने जा रहा है  उनमें से एक आप भी हैं। थोड़ी ऊँच  नीच के साथ ही सही , आप इस वर्ष का भरपूर आनंद लेने वाले हैं।  आपके जीवनसाथी के साथ आपके सम्बन्ध बहुत अच्छे रहेंगे , यद्यपि राहु भी सिंह को आक्रांत करेगा किन्तु  बहुत दूरी रहेगी अतः कोई अधिक  हानि नहीं है। आपका अपने पिता से भी बहुत अच्छा वार्तालाप चलता रहेगा , माता के साथ कुछ मतभेद हो  सकते हैं किन्तु मनभेद नहीं होंगे इतना निश्चित है। आपके नाते रिश्तेदारों से भी आपको लाभ ही रहेगा और आपसी तालमेल बहुत अच्छा रहेगा।
रेटिंग : ४ /५

२) स्वास्थ्य : इस वर्ष आपका स्वास्थ्य भी उत्तम रहने वाला है , ३१ जनवरी के बाद से कुछ समस्या आपकी मानसिकता को लेकर हो सकती है किन्तु अधिक  कुछ भी नहीं है। आपका वजन बढ़ेगा , अतः  ध्यान रखें की आप मक्खन , घी , मीठा की अधिकता न करें अन्यथा आप स्वयं ही बिमारियों को न्योता देंगे।

रेटिंग : ३. ५ /५

३) आर्थिक स्थिति : इस वर्ष आपकी आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ रहने वाली है। आपके कार्यों में अवरोध कम रहेंगे। आपको अपनी रोज़मर्रा की जीवन शैली को बदलने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आप कर्मशील बने रहेंगे और इस कारण धन की निरंतरता भी बनी रहेगी।११ अगस्त के बाद आपको और अधिक लाभ होगा तथा बैंक में धन की मात्रा बढ़ेगी।

रेटिंग : ३. ५ / ५

४) नौकरी : नौकरीपेशा लोगों के लिए यह पूरा वर्ष अच्छा ही रहने वाला है।  आपको अपने जो भी क्षेत्र में आप कार्य कर रहे हैं उसमें प्रशंशा , अधिकारीयों का सहयोग , और कुलमिलाकर सभी सहूलियतें मिलेंगी जो बहुत समय से लंबित थीं। आप अपने कार्य समय से पूर्व ही  कर सकने में सक्षम होंगे और अधिक धनदायी नौकरी भी आपकी झोली में आ सकती है। यदि आपकी गुरु की महादशा चल रही है तो आपको अत्यधिक लाभ होने वाला है।

रेटिंग : ४/५

५) व्यवसाय : किसी भी व्यवसाय का मूल उद्देश्य धन की प्राप्ति होता है , और इस वर्ष आपको यह प्रचुर मात्रा में मिलने वाला है। आप देखेंगे की आपका जो भी कारोबार है उसमें बढ़ोत्तरी होती जा रही है। अपनी अपनी कुंडली के अनुसार आपको इसके लाभ मिलेंगे और अगस्त के बाद प्रचुर लाभ होगा। जमीन का व्यवसाय करने वालों को उतना लाभ  नहीं रहेगा , ११ अगस्त के बाद आप शेयर  से भी आय प्राप्त कर सकेंगे और यदि लाटरी आपके राज्य में बंद न हो तो थोड़ा सा प्रयास छोटी से मात्रा में करके देखिएगा।

रेटिंग : ४ / ५

६) प्रेम सम्बन्ध : यह आयाम भी आपके लिए अधिकतर सुखद ही रहने वाला है , यदि आप अविवाहित  हैं तो इस वर्ष आप अपने सम्बन्ध को उसके नैतिक अंत अर्थात विवाह  तक भी ले जा सकते हैं। आपके संबंधों में शांति , प्रेम और समझदारी बनी रहेगी जो किसी भी प्रेम सम्बन्ध के लिए नितांत आवशयक है। ११ अगस्त के बाद आपके सम्बन्ध और बेहतर होंगे।
रेटिंग : ४/५

७) सेक्स लाइफ : सिंह लग्न के जातक वैसे भी सेक्स को लेकर बहुत उत्साहित रहते हैं और इस वर्ष  आपके लिए यह आयाम भी सुखद रहेगा। न सिर्फ आपकी ऊर्र्जा  बनी रहेगी बल्कि आपको अपने जीवन साथी से भी पूर्ण सहयोग मिलेगा और आपकी निजी क्रियाओं में आपको पूर्ण शांति प्राप्त होगी। ११ अगस्त के बाद से आपकी इच्छा और क्रिया  दोनों में ही बढ़ोत्तरी होगी।

रेटिंग : ४/५

८) सावधानी के दिन : चन्द्रमा जब भी सिंह , मकर , कुम्भ , मीन में रहे तब किसी यात्रा आदि पर न जाएँ , मन को शांत रखें और बड़े फैसले न लें। २८ जनवरी २०१६ से १५ फ़रवरी तक भी आप धन अथवा निजी संबंधों को लेकर कोई अहम निर्णय मत कीजियेगा। मंगल जब सिंह , कुम्भ अथवा मीन में रहे तब सावधान रहना चाहिए। २८ मार्च से १२ अप्रैल २०१६ में कोई इंटरनेट से खरीददारी अथवा कोई महँगी वस्तु न खरीदें और शेयर मार्केट से दूर रहे।

९) उपाय : यदि आपकी  शनि की महादशा चल रही है तो मंगलवार को हनुमान मंदिर में ५ मंगलवार चोला चढ़ाइये , आपके सामने और पूरी श्रद्धा से पूजा पाठ दान आदि कीजिये। गुरु की महादशा में कुछ अधिक करने की आवश्यकता नहीं है , राहु अथवा केतु की महादशा में देवी कवच का पाठ आपको दिन में ३ बार करना चाहिए। अन्य किसी  गृह की दशा अथवा अंतर वर्ष भर हो तो हनुमान चालीसा का नित्य पाठ आपके लिए अति लाभकारी रहेगा।