Friday, October 2, 2015

धनु लग्न फल २०१६

धनु लग्न फल २०१६


वर्ष २०१६ की शुरुआत हो रही है शनि के वृश्चिक में , गुरु सिंह में , राहु - केतु ३१ जनवरी तक अपनी वर्तमान राशियों में रहने के बाद सिंह में राहु का प्रवेश होगा और  कुम्भ में केतु का। आपके जीवन के विभिन आयाम किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं तथा आपको क्या उपाय  करने चाहिए और किन तारीखों में आपको बड़े निजी अथवा सामाजिक निर्णय लेने से बचना चाहिए यह सब मैं ज्योतिषीय गणना द्वारा आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ। आशा है नववर्ष आपके लिए शुभ रहेगा।

१) पारिवारिक स्थिति : कभी कभी आपका भीषण विवाद होना बहुत संभव है। माता से आपके सम्बन्ध अच्छे रहेंगे और शादीशुदा जीवन भी बढ़िया बना रहेगा। आपको अपने व्यवहार पर नियंत्रण रखना ही श्रेष्ठ रहेगा क्योंकि आपका आपके भाइयों से कोई विवाद हो सकता है जो की उग्र रूप ले सकता है। वैसे यह ज़रूरी नहीं है और सबकी अपनी अपनी पत्रिका की दशा के अनुसार होगा।  केतु महादशा वालों के लिए हानि अधिक होगी। शनि महादशा के लोगों को भी सावधान रहना चाहिए। पिता के साथ आपकी बहुत नहीं बनेगी और बात बात पर कुछ न कुछ विवाद होना संभव है। अगस्त के बाद स्थिति में सुधार आएगा।
रेटिंग : २ /५

२) स्वास्थ्य : आपको इस वर्ष  जकड़न , रक्त सम्बंधित और दूषित भोजन द्वारा जनित रोग होने की सम्भावना अधिक है।  आपके लिवर में कोई खराबी आ सकती है। आपको गरिष्ठ भोजन से बचना चाहिए। आँखों में समस्या हो सकती है , चश्मा लग सकता है अथवा जिनको लगा  हुआ है उनका नंबर बढ़ सकता है। आपका आत्मबल भी कुछ कम  रह सकता है।

रेटिंग : २.५ /५

३)आर्थिक स्थिति : शनि आपका धनेश है और १२वे घर में गोचर कर रहा है।  शनि की जिनकी दशा चल रही है उनको अधिक सतर्क रहना चाहिए - आपको खर्चों से बहुत परेशानी होगी जिससे आपका जमा धन कम हो सकता है।  कोई व्यक्ति आपको धोखा भी दे सकता है अतः अपने किसी भी प्रकार के आर्थिक लेनदेन में सावधानी रखें। गुरु महादशा जिनकी चल रही है उनके लिए भी सतर्कता बरतने का वर्ष है। ध्यान रखिये की कोई कहीं आपसे किसी कागज़ पर बिना आपको पढ़ाये आपके हस्ताक्षर न करवा ले अथवा कोई आपके जाली हस्ताक्षर भी बनाने का प्रयास कर सकता है।

रेटिंग : ३/५

४) नौकरी : नौकरी पेश लोगों के लिए यह वर्ष बहुत ही बढ़िया रहने वाला है।  आपको ख़ास तौर पर अगस्त के बाद से आपको बहुत लाभ होगा। नौकरी में तरक्की , तनख्व्वाह में बढ़ोतरी आदि हो सकती हैं , आपको अपने अधिकारियों से भी अच्छा सहयोग मिलेगा और  आपका प्रदर्शन भी उत्तम रहेगा।  किन्तु अगस्त  के पहले तक आपको बहुत संभल कर रहना है जिससे आपका अपने कार्यस्थल और अधिकारियों व  सहकर्मियों से कोई विवाद न हो।

रेटिंग : ४/५

५) व्यवसाय : व्यवसाइयों के लिए यह वर्ष बहुत अच्छा  नहीं रहने वाला है।  आपको अपने आर्थिक निर्णय समझबूझ से लेने होंगे अन्यथा आपको भारी नुक्सान  उठाना पड़ सकता है।  आप जहां तक हो गैरकानूनी मार्ग  अपनाने से बचिए क्योंकि उससे आपको लाभ की जगह हानि हो सकती है। जेल योग भी बन सकता है।
रेटिंग : ३ /५

६) प्रेम सम्बन्ध : प्रेम संबंधों के लिए वर्ष सामान्य है।  आपको कोई विशेष समस्या या दिक्कत  का सामना नहीं करना पड़ेगा और आपकी सामान्य गतिविधि बनी रहेगी।  किन्तु आपको यह ध्यान रखना है की शक और  दोनों के बीच में न आने पाएं क्योंकि अगस्त तक का समय थोड़ा सा विपरीत है और आपको इनसे बच कर रहना है।

रेटिंग : ३/५

७) सेक्स लाइफ : आपकी सेक्स लाइफ उत्तम रहेगी , इस वर्ष आपको काफी अच्छा सुख प्राप्त होगा। आपकी लिप्सा भी अधिक बनी रहेगी और आप इसी प्रयास में कुछ अनैतिक सम्बन्ध भी स्थापित कर सकते हैं। आपको किसी विधर्मी अथवा विधवा से शारीरिक सम्बन्ध बनाने का अवसर भी मिल सकता है।

रेटिंग : ४/५

८) सावधानी के दिन : चन्द्रमा जब भी सिंह वृश्चिक कुम्भ में हो तो बड़े निर्णय न करें और शांत रहे , किसी से विवाद भी हो रहा हो तो उसे टाल दीजिये। १४ मई से २० मई , १६ जुलाई से १५ अगस्त , १६ नवम्बर से १७ दिसंबर में निवेश , नयी खरीद आदि मत कीजियेगा।

९) उपाय : आपको अपनी सोच को सही रखना है और रामचरित मानस का पाठ जितना संभव हो उतना करना चाहिए।  वैसे यह तो सभी को करना चाहिए किन्तु आपके द्वारा करने पर अधिक सही रहेगा।  राम रक्षा स्तोत्र भी आपको अपने पास रखना चाहिए और संकट के समय या दुविधा में इसका पाठ अवश्य कीजिये।