मीन लग्न फल २०१६

मीन लग्न फल २०१६
वर्ष २०१६ की शुरुआत हो रही है शनि के वृश्चिक में , गुरु सिंह में , राहु - केतु ३१ जनवरी तक अपनी वर्तमान राशियों में रहने के बाद सिंह में राहु का प्रवेश होगा और  कुम्भ में केतु का। आपके जीवन के विभिन आयाम किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं तथा आपको क्या उपाय  करने चाहिए और किन तारीखों में आपको बड़े निजी अथवा सामाजिक निर्णय लेने से बचना चाहिए यह सब मैं ज्योतिषीय गणना द्वारा आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ। आशा है नववर्ष आपके लिए शुभ रहेगा।
१. पारिवारिक स्थिति : इस वर्ष आपकी पारिवारिक स्थिति अगस्त तक कुछ दुखदायी रह सकती है। आपका  चाहते हुए भी सामंजस्य नहीं बैठ पायेगा और इसी कारण विवाद की स्थिति बनेगी। विवाहित जीवन भी  अगस्त के बाद ही बेहतर होगा। आपके पिता से आपका व्यवहार ठीक नहीं रहेगा किन्तु माता  के साथ आपकी अच्छी निभेगी। आपको चाहिए की सबकी बात ध्यान से सुनें और स्वयं की बात को दूसरों पर थोपिये नहीं , ऐसा कभी कभी तो चल जाता है किन्तु बाद में सभी को परेशानी होती है।
२. स्वास्थ्य :   अगस्त तक आपको सजग रहना होगा , जिनकी बृहस्पति की महादशा चल रही होगी उनको स्वास्थ्य में बड़ी दिक्कत होने की बहुत संभावना है। आपको आँतों , लिवर,किडनी , रक्त , आदि की समस्या से जूझना पड़ सकता है। अतः अपने खान पान पर नियंत्रण रखना होगा। व्यायाम की आदत बनानी पड़ेगी अन्यथा आपको ही नुक्सान उठाना पड़ेगा।
३) आर्थिक स्थिति :आर्थिक स्थिति इस वर्ष सामान्य रहेगी। आपको अधिक व्यय नहीं करने पड़ेंगे।  धन आपके पास रुका रहेगा। किन्तु अगस्त तक आपको फरेब धोखे आदि से बचना है। ऐसा होने के बहुत योग हैं। इस वर्ष आप नए सामान भी लेंगे और बचत भी करेंगे।
४) नौकरी : नौकरी में आपको कुछ शुरूआती दिक्कतें रह सकती है किन्तु यह  भी है की आपको उन्नति के बहुत अवसर मिलेंगे। आपको इस वर्ष नयी नौकरी भी मिल सकती है किन्तु यह ध्यान रखिये की एक मिलने के पहली चलती नौकरी को छोड़िये नहीं अन्यथा ऐसा होना बहुत संभव है की आपको दूसरी नौकरी मिलने में बहुत अधिक समय लग जाए।
५) व्यवसाय : मीन लग्न के व्यवसाइयों को अगस्त के बाद बहुत लाभ होगा।  आपको नए साथी मिल सकते हैं जिनकी सहायता से आप अपने कार्य को आगे बढ़ा सकते हैं।  आपको अगस्त तक दूसरों पर अधिक भरोसा नहीं करना है। जिनकी शनि की दशा चल रही है उनको अधिक लाभ होगा।
६) प्रेम सम्बन्ध : प्रेम सम्बन्ध सामान्य रहने वाले हैं। लेकिन यदि  आप किसी से अपने मन की बात कहना चाह रहे हैं तो अगस्त मध्य तक रुकना बेहतर होगा। ऐसा भी संभव है की आपको जो व्यक्ति पसंद है - समय के साथ आपकी  रूचि उससे हट  जाए. किसी मनमुटाव अथवा ग़लतफहमी के  कारण भी  आपको समस्या  हो सकती है।
७) सेक्स लाइफ : यह  आयाम आपको बहुत सुख नहीं देगा।  आपको अधिकतर अपनी मानसिक परेशानियों के कारन व्यस्त रहना पड़ सकता है और आपकी रूचि में कमी रह सकती है। आपको शारीरिक रूप से कमज़ोरी भी बन सकती है जिसके कारण आप इस आयाम  न ले पाएं।
८) सावधानी के दिन : २५ मार्च l se १३ अगस्त  का समय कोई बड़े निर्णय साझेदारी निवेश आदि करने का नहीं है। तुला में चन्द्रमा रहे तब कोई यात्रा न करें। सिंह , वृश्चिक कुम्भ में चन्द्रमा रहे त्तब मन को शांत रखें और नकारात्मकता से बचें।
९. उपाय : आपको बृहस्पतिवार का व्रत करना चाहिए और पीले अन्न गौ माता को खिलाने चाहिए अथवा पीले वस्त्र किसी सात्विक धार्मिक वृद्ध ब्राह्मण अथवा अपंग व्यक्ति को  देना चाहिए।