सूर्य का कुंभ में गोचर

मेष
मेष राशि में सूर्य उच्च के भी कहलाते हैं। यह मंगल की प्रथम राशि है। शुरूआती दिनों में आपके लिए हानि प्रद रहेगा। आपको कोई निराशाजनक समाचार सुनने को मिल सकता है। किसी महत्वपूर्ण कार्य में विलम्ब हो सकता है। इसके बाद यह राहु के नक्षत्र में आएगा जो की अभी कन्या राशि में है। शत्रुओं द्वारा आपको हानि की सम्भावना है। आपका स्वास्थ्य भी ख़राब हो सकता है। गुरु के नक्षत्र में जाने पर यह आपके खर्चों में बढ़ोत्तरी कर सकता है।

वृषभ
शत्रु राशि में सूर्य आपके दशम भाव में रहेगा। आपको कार्र्यस्थल पर अधिक ऊर्जा तो देगा किन्तु विलम्ब भी रहेगा। व्यय में अधिकता बनी रहेगी। प्रेम सम्बन्ध में कुछ कमी आ सकती है। चेहरे पर कोई चोट लग सकती है। पेट में अत्यधिक वात रह सकता है।अंतिम चरण में आपको खुशख़बरी मिल सकती है। आपको गुप्त आय के भी योग हैं जो किसी भी रूप में आपके सामने आ सकते हैं।

मिथुन
आपको कानूनी मसलों में विजय मिल सकती है। दोस्तों से लाभ हो सकता है। प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल हो सकते हैं। स्वास्थय सामान्य रहेगा। आपको कीटाणुओं से बचना चाहिए। कार्य क्षेत्र में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे। धर्म की तरफ आपका झुकाव बढ़ सकता है। भाइयों से कुछ कहासुनी हो सकती है। पैरों में दर्द की शिकायत रह सकती है।

कर्क
धन हानि के योग बनेंगे। कार्यस्थल पर मानहानि हो सकती है। आपके कामों में देरी होगी और आपका मन भी कम लगेगा। आपमें टालने की प्रवृत्ति आ सकती है। खर्चे एकदम से करने पड़ जाएंगे। आपको ख़र्चों के बढ़ने से मानसिक तकलीफ़ होगी। स्वास्थ्य पर भी आपको व्यय करना पड़ेगा। अंतिम वृत्ति में भाग्य आपके पक्ष में होता दिखेगा और आपके कुछ कार्य समय पर पूर्ण हो जाएंगे। जिन लोगों ने आपको कुछ वादा करा था वे इस समय में आपके काम आ सकते हैं।

सिंह
आत्मबल में अधिकता आएगी। आत्मविश्वास बढ़ेगा और अहंकार भी आपका बढ़ सकता है। लोगों के प्रति आपका दृश्टिकोण थोड़ा सा हेय दृष्टि से युक्त हो सकता है। संपत्ति आदि के कार्यों में बातचीत आगे बढ़ेगी। किसी दूर के व्यक्ति से आपका सम्बन्ध स्थापित हो सकता है। धनलाभ के अच्छे योग हैं।आपके प्रेम सम्बन्ध किसी मुश्किल में पड़ सकते हैं। आपसी समझदारी बनाने से ही आपकी बात दूर तक चलेगी।

कन्या
छठे घर में सूर्य अच्छा माना गया है वैसे बहुत विद्वान इसे इस घर में खराब भी मानते हैं। स्वास्थ्य में कमी आ सकती है। आपको अपनी दैनिक जीवनचर्या संतुलित रखनी होगा अन्यथा किसी गंभीर घटना के शिकार हो सकते हैं। मन में भ्रम की स्थिति बनी रहेगी। अनिद्रा के शिकार भी हो सकते हैं। आपको दुःस्वप्न भी आ सकते हैं। जीवनसाथी से विवाद हो सकता है।

तुला
खान पान में आपको गरिष्ठ तथा मिर्च मसाले से बचना होगा। मित्रों से सम्बन्ध अधिक मज़बूत होंगे। बड़े लोगों से सहायता मिलेगी। कोई नया प्रेम सम्बन्ध हो सकता है अथवा आपके वर्तमान संबंधों में प्रगाढ़ता आ सकती है। धनलाभ के अच्छे योग बनेंगे। आपको अपने जीवन में ऋणात्मकता को समाप्त करना चाहिए। आपको भाग्य का साथ भी प्राप्त होगा। कानूनी मसलों में भी सफलता मिलेगी।

वृश्चिक
यदि आपकी आयु अधिक है तो आपको व्यायाम नियमित और सादा भोजन अपना लेना चाहिए। आपको ह्रदय गति पर नज़र रखनी चाहिए। आपको अपने वाहन की सर्विसिंग भी करा लेनी चाहिए। सेहत की दृष्टि से सामान्य लोगों के लिए भी स्वास्थय एक समस्या बन सकता है। भाग्य आपके साथ अन्याय कर सकता है। किन्तु कोई अप्रत्याशित सफलता भी आपको मिल सकती है। धन निवेश कर सकते हैं।

धनु
भाग्य साथ देगा। भाग्येश अपने घर को देख रहा है। यद्यपि सूर्य शत्रु राशि में है किन्तु फिर भी उतना हानिकारक नहीं होता। कुछ देर से ही सही मगर आपके कार्य पूर्णता को प्राप्त होंगे। खर्च बढ़ जाएंगे। आपके निवेश के निर्णय गलत हो सकते हैं। संतान पक्ष से कोई अशुभ सचार मिल सकता है। काम काज की स्थिति अच्छी रहेगी। आपको स्वास्थ्य लाभ भी होगा।कोई पुराने रोग में आराम भी हो सकता है।

मकर
आपके यहाँ चोरी हो सकती है। कोई कीमती सामान गायब हो सकता है। आपके वरिष्ठों से आपका विवाद हो सकता है। आपके घर के सदस्यों से आपकी कलह हो सकती है। आपके भूमि भवन के मसले में आपको लाभ मिल सकता है। मित्र अपेक्षित रूप से सहायक होंगे। आपको आवारा पशुओं से हानि हो सकती है। निजी जीवन में अशांति फैल सकती है।

कुम्भ
आपकी शांति भंग होने के पूर्ण आसार हैं। मन में अस्थिरता रहेगी। ज्वर से आप पीड़ित हो सकते हैं। शरीर का तापमान थोड़ा सा बढ़ा हुआ रह सकता है। आपकी छोटी-मोटी कई यात्रा हो सकती है। आपकी अचानक मानहानि के योग भी बने हुए हैं। किसी से कोई वादा आदि करने से पहले सोच समझ लीजियेगा। कार्यस्थल पर भी आपको प्रति अरुचि बनी रहेगी। गोचर का अंतिम भाग आपके लिए लाभकारी होगा। यदि कोई आवश्यक कार्य हैं तो उनको अंतिम भाग तक के लिए स्थगित कर दीजियेगा।

मीन
द्वादश भाव में सूर्य की स्थिति को अच्छा नहीं माना जाता है। किन्तु इसके प्रभाव से आपकी विदेश यात्रा संभव हो सकती है। स्वास्थ्य में हानि की बहुत सम्भावना है। आपको जेब पर अधिक भार डालना पड़ेगा। भाग्य अधिक साथ नहीं देगा। निजी जीवन में भी उथल पुथल बनी रहेगी। कार्यस्थल पर भी आपसे संतोषजनक प्रदर्शन नहीं हो पायेगा।