Friday, October 2, 2015

वृश्चिक लग्न फल २०१६

वृश्चिक लग्न फल २०१६

वर्ष २०१६ की शुरुआत हो रही है शनि के वृश्चिक में , गुरु सिंह में , राहु - केतु ३१ जनवरी तक अपनी वर्तमान राशियों में रहने के बाद सिंह में राहु का प्रवेश होगा और  कुम्भ में केतु का। आपके जीवन के विभिन आयाम किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं तथा आपको क्या उपाय  करने चाहिए और किन तारीखों में आपको बड़े निजी अथवा सामाजिक निर्णय लेने से बचना चाहिए यह सब मैं ज्योतिषीय गणना द्वारा आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ। आशा है नववर्ष आपके लिए शुभ रहेगा।
पारिवारिक स्थिति : आपके भाई बंधू आपके काम आएंगे , आपका उनसे अच्छा सम्बन्ध बना रहेगा। आपकी निजी ज़िन्दगी में उतार चढ़ाव बने रहेंगे और अगस्त माह से आपको बहुत सारी  समस्याओं से मुक्ति मिलेगी।माता से आपकी बहुत अच्छी नहीं निभ पाएगी और आप दोनों के मध्य कोई न कोई बात पर परेशानी चलती रहेगी। आपको अपने पिता का  काफी सहयोग मिलता रहेगा। संतान से आपको प्रसन्नता तो  प्राप्त होगी किन्तु उसका ज़िद्दी स्वभाव कभी कभी आपके लिए बड़ी समस्या बन सकता है । जीवन साथी से आपको सामंजस्य बिठा कर चलना चाहिए।

रेटिंग : ३/५

स्वास्थ्य : इस वर्ष आपको कोई अधिक शारीरिक कष्ट तो नहीं है किन्तु आपकी रोज़मर्रा की कार्यप्रणाली अथवा शैली में थोड़ी सुस्ती आएगी और आप आलसी हो जाएंगे। आपको चीज़ों को बाद में करने की इच्छा होगी। आपका स्वभाव थोड़ा चिड़चिड़ा सा बना रहेगा।  आप लोगों पर आसानी से भरोसा नहीं कर पाएंगे। पेट , ह्रदय , पैरों की पिंडलियों में आपको समस्या आ सकती है।
रेटिंग : ३/५

आर्थिक स्थति : आपका धनेश गुरु बनता है और वह इस वर्ष काफी समय राहु के साथ रहेगा।  राहु का स्वभाव मूलतः हानि देने वाला होता है , फ़र्ज़ी कामों में भी इस गृह का काफी योगदान होता है। अतः आपको अपने धन को सहेज कर रखना ही अधिक  उपयुक्त है।  ११ अगस्त को गुरु राहु से आगे निकल जायेगा तो उसके बाद आप कहीं निवेश भी कीजिये और शेयर से भी लाभ लेने का स्थिति अनुसार प्रयास कीजिये। लाभ मिल सकता है अगर गुरु की ही भुक्ति अथवा प्रत्यंतर हो।  अगस्त के बाद का समय आपके लिए बहुत बढ़िया है।
रेटिंग : ३ / ५

नौकरी : राहु के दशम में होने से  और गुरु से युति के  कारण आपकी नौकरी में काफी समस्या  आ सकती है।  आपका अख्हड् स्वभाव और अड़ियल रवैय्या आपको मुश्किल में डाल सकता है और आपकी नौकरी  जा भी सकती है। अतः अगस्त माह  तक आपको अपनी उग्र भावनाओं को नियंत्रित रखना होगा। आपका कार्यस्थल पर किसी अधिकारी से  विवाद बहुत संभव है।

रेटिंग :  ३ / ५

व्यवसाय : आपको इस वर्ष बढ़िया आय की आशा रखनी चाहिए , आप गैर कानूनी  से भी काफी धन  अर्जित करेंगे और जमा भी करेंगे। आपको निम्न स्तर के उत्पादों से अच्छी आय होगी और उसी में आपको डील करना चाहिए। आपके मित्रों और चाहनेवालों के कारण आपके कई कार्य सिद्ध  हो सकते हैं। आपका विवाद भी  संभव है अपने साथी व्यवसाइयों से और आपको धोखा भी मिल सकता है अतः आपको सजग रहना चाहिए।
रेटिंग : ३. ५ /५

प्रेम सम्बन्ध :  प्रेम सम्बन्ध आपको इस वर्ष प्रसन्न  रखने वाले हैं किन्तु अगस्त के बाद। तब तक आपको आपसी सूझबूझ से रिश्तों को बनाये  रखना है और आपस में कोई शक या  ग़लतफहमी आदि को स्थान नहीं देना है। ऐसा संभव होगा की कुछ समय के लिए आप दोनों में वार्ता  ही बंद हो जाए किन्तु आपके प्रयासों और इच्छाशक्ति से वह आप पुनः शुरू कर सकते है और अगस्त माह के बाद कोई दिक्कत  नहीं आने वाली है।  

रेटिंग : ४/५

सेक्स लाइफ : आपकी सेक्स लाइफ बहुत बढ़िया रहने वाली है और आप इस वर्ष इस क्रिया का भरपूर आनंद लेने वाले हैं। आपके  सम्बन्ध आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेंगे। आपके विवाहेतर सम्बन्ध भी आपको बहुत शारीरिक सुख प्रदान करेंगे। आपमें अप्राकृतिक क्रियाओं के प्रति रूचि बढ़ सकती है।

रेटिंग : ४/५

सावधानी के दिन :  आपको जब भी चन्द्रमा मिथुन में रहे तो यात्रा से  बचना चाहिए। चन्द्रमा सिंह , वृश्चिक , कुम्भ में आये तो कोई बड़े फैसले  नहीं लेने हैं। ९ से २० जनवरी , ७ मार्च से ६ अप्रैल , १ से १७ मई , २५ जून से २० जुलाई , ७ से १९ सितम्बर , ८ अक्टूबर से २१ नवम्बर , २२ दिसंबर २०१६ से ४ जनवरी २०१७ - इन तारीखों में बड़े निर्णय , निवेश , नयी खरीद , कोई नए समझौते नहीं कीजियेगा।

उपाय : आपके लिए हनुमान चालीसा का पाठ ही सर्वोत्तम उपाय है और दूसरा आपको साफ़ सफाई में रहना चाहिए  और दूसरों से ईर्ष्या नहीं करनी चाहिए।