Friday, October 2, 2015

मकर लग्न फल २०१६

मकर लग्न फल २०१६

वर्ष २०१६ की शुरुआत हो रही है शनि के वृश्चिक में , गुरु सिंह में , राहु - केतु ३१ जनवरी तक अपनी वर्तमान राशियों में रहने के बाद सिंह में राहु का प्रवेश होगा और  कुम्भ में केतु का। आपके जीवन के विभिन आयाम किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं तथा आपको क्या उपाय  करने चाहिए और किन तारीखों में आपको बड़े निजी अथवा सामाजिक निर्णय लेने से बचना चाहिए यह सब मैं ज्योतिषीय गणना द्वारा आपके लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ। आशा है नववर्ष आपके लिए शुभ रहेगा।

१) पारिवारिक स्थिति : आपकी इस वर्ष पारिवारिक स्थिति बहुत अच्छी तो नहीं रहेगी। आपकी अपने कुटुम्भ के सदस्यों से अनबन बनी रहेगी। बिना बात के तर्क - वितर्क विवाद होते रहेंगे। माता पिता से आपके सम्बन्ध सामान्य रहेंगे किन्तु आपके भाइयों से आपके विवाद रह सकते हैं। विवाहित  जीवन भी मानसिक रूप से कष्टकारी ही रहेगा। आपके जीवनसाथी से आपके गम्भीर विवाद हो सकते हैं और आपकी भाषा ही आपके लिए सबसे अधिक नुकसानदेह सिद्ध हो सकती है। वाणी पर नियंत्रण बहुत आवश्यक है।

रेटिंग : २/५

२) स्वास्थ्य : इस वर्ष आपको जो तकलीफें हो सकती हैं उनमें से मानसिक उन्माद , अपच , सर दर्द की अधिकता , नेत्रों में समस्या , किडनी तथा लिवर के रोग मुख्य रह सकते हैं।  आपको आलस्य प्रमाद भी घेर कर रखेंगे। मानसिक तौर पर आपको स्वयं को जितना हो सके प्रसन्नचित्त रखना है और सुबह शाम अधिकाधिक जल ग्रहण कर के पैदल चलना चाहिए और हरी सब्जियों की अधिकता अपने भोजन में रखनी है।
रेटिंग : ३/५

३) आर्थिक स्थिति : धन भाव में राहु अथवा केतु रहे तो हानि तो होगी ही , किसी को कम किसीको अधिक - और यह अधिक खर्चों के कारण हो सकती है , आपको अपने मित्रों आदि से छल कपट के कारण भी हो सकती है और  किसी के अपराधिक इरादों के कारण भी ऐसा संभव है। किन्तु ऐसा बिलकुल नहीं है की सिर्फ हानि ही होगी - जिनकी केतु की दशा चल  है और केतु खराब भावों का कार्र्येष होगा उनको सबसे अधिक हानि देगा किन्तु बाकी को नहीं। अतः इसको लेकर अधिक चिंता नहीं करनी है। जिनकी शनि की दशा चल रही होगी उनको अत्यधिक लाभ होगा और आर्थिक स्थिति बहुत मज़बूत होगी।

रेटिंग : ३/५

४) नौकरी : आपकी नौकरी में आपको बहुत सम्मान मिलेगा , नयी नौकरी मिलने की बहुत सम्भावना  है और आपकी नौकरी से सम्बंधित जो भी मनोकामना  है वह पूर्ण होने के प्रबल योग हैं। जिनकी  राहु अथवा बृहस्पति की दशा अंतर आदि होगा उनको थोड़ी सी परेशानी हो सकती है किन्तु शनि अथवा अन्य ग्रहों की महादशा जिन जातकों की होगी  उनके लिए लाभ की स्थिति ही रहेगी।

रेटिंग  : ४. ५ / ५

५) व्यवसाय :  व्यवसाइयों को भी बढ़िया लाभ रहने वाला है। आपकी अगर केतु , गुरु अथवा राहु की दशा चल  रही हो और ये आपके लिए अच्छे भावों के कार्येश न हों तो आपको  बहुत  सावधान रहना होगा किन्तु किसी भी स्थिति में लाभ तो आपको होगा - यह सभी मकर लग्न के जातकों के लिए अप्लाई होगा। आपको नए साथी मिल सकते है , आपका व्यवसाय दूर तक फ़ैल सकता है और सरकारी ठेके भी आपको मिल सकते हैं। इसके साथ ही आपको पूँजी लगाने वाले लोग भी मिल सकते हैं।

रेटिंग : ४. ५ / ५
६) प्रेम सम्बन्ध : यद्यपि आपका झुकाव अधिक प्रेम संबंधों की तरफ नहीं रहता है  किन्तु जिन लोगों के प्रेम सम्बन्ध बने हुए हैं उनको इस वर्ष अच्छा फल ही रहेगा।  आपकी रूचि स्वयं ही थोड़ी रोमांटिक हुआ करेगी और इस वर्ष आपको अपना मनपसंद साथी मिल सकता है। ज़रुरत इस बात की है की आप स्वयं को दूसरों के साथ बांटें और अंदर ही अंदर सोच कर न रह जाएँ जैसा की शनि प्रधान लोगों की साथ बहुधा होता है।  

रेटिंग : ३/५

७) सेक्स लाइफ :   इस वर्ष आपके अंतरंग संबंधों में बहुत इज़ाफ़ा हो सकता है। आप अप्राकृतिक यौनाचार में अत्यधिक लिप्त रह सकते हैं। आपकी रूचि सेक्स आदि बातों में बहुत बनी रह सकती है। आपके वैवाहिक जीवन के अतिरिक्त भी आप यह सुख तलाश सकते हैं और सफल भी रहेंगे। किन्तु आपको इस वर्ष मानहानि के योग भी हैं और अगर आपका रवैय्या नैतिक नहीं रहा तो आप किसी संकट में भी आ सकते हैं।

रेटिंग : ३/५

८) सावधानी के दिन : आपको जब भी चन्द्रमा सिंह  में रहे तो यात्रा से  बचना चाहिए। चन्द्रमा सिंह , वृश्चिक , कुम्भ में आये तो कोई बड़े फैसले  नहीं लेने हैं। ९ से २० जनवरी , ७ मार्च से ६ अप्रैल , १ से १७ मई , २५ जून से २० जुलाई , ७ से १९ सितम्बर , ८ अक्टूबर से २१ नवम्बर , २२ दिसंबर २०१६ से ४ जनवरी २०१७ - इन तारीखों में बड़े निर्णय , निवेश , नयी खरीद , कोई नए समझौते नहीं कीजियेगा।
९) उपाय : हनुमान चालीसा , शनि स्तोत्र और मंगलवार को हनुमान मंदिर में दान पुण्य करते रहना आपके लिए अच्छा है और साथ ही अर्गला स्तोत्र का  पाठ भी आपको करना चाहिए