Wednesday, April 2, 2014

स्मृति ईरानी का चुनावी फलादेश



अमेठी से स्मृति इरानी को राहुल गाँधी और कुमार विश्वास के विरुद्ध मैदान में उतारा गया है , आइये देखते हैं की अमेठी का विजेता कौन होगा. मैंने के पी क्रमांक १६९ का चयन करा है जिसके अनुसार निम्न कुंडली बनती है:

जीत के लिए नियम : यदि छठे भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी ६,१०,११ में से किसी का कार्येष गृह है तो व्यक्ति जीत सकता है अन्यथा यदि वह गृह ४,५,१२ का कार्येष है तो वह हार जाता है. यदि वह दोनों प्रकार के भावों को सामान रूप से दर्शाता है तो महादशा अंतर और प्रत्यंतर स्वामी किन भाव के कार्येष हैं ये देखना चहिये
प्रश्न यह है की क्या स्मृति इरानी राहुल गाँधी को हरा देंगी ?
लग्न का उपनक्षत्र स्वामी सूर्य चतुर्थ में है और केतु के उपनक्षत्र में चतुर्थ भाव में है.
विरोधी  का लग्न का उपनक्षत्र स्वामी शुक्र अष्टम में है और केतु के उपनक्षत्र में है जो दशम में है.
छठे भाव का उपनक्षत्र स्वामी शुक्र द्वितीय भाव में है और केतु के उपनक्षत्र में है जो चतुर्थ में है .
लाभ भाव का उपनक्षत्र स्वामी बुध तृतीय मैं है और शुक्र के उपनक्षत्र में है जो द्वितीय में है.
विरोधी के लाभ भाव का उपनक्षत्र स्वामी अष्टम में है और केतु के उपनक्षत्र में है जो दशम में है.
चंद्रमा अभी पंचम भाव से गोचर कर रहा है और शनि के उपनक्षत्र में है जो एकादश भाव दिखा रहा है , शनि वक्री है.
एकादश भाव के कार्येष गृह शनि,चन्द्र , शुक्र, राहू ,केतु , गुरु हैं.
मतदान के दिन ७ मई को शुक्र – शनि – सूर्य – शुक्र की दशा रहेगी और चंद्रमा बुध के नक्षत्र में होगा और सूर्य शुक्र के.
निष्कर्ष : यह बड़ा ही उलझाने वाला समीकरण बना हुआ है और मुझे ऐसा लगता है की तीसरी पार्टी जो की आम आदमी पार्टी है वह विजयी घोषित होगी.